facebook google youtube Twiter
ghatati ghatana
About Us India World Chhattisgarh Sports Epaper Contact

facebook google+ YouTube twiter
Friday 28 Feb 2020 08:02 AM

Breaking News


रायपुर.@ मानवाधिकार आयोग की सुनवाई में एक बार फिर पवन देव यौन शोषण मामला गरमाया.



रायपुर.@ मानवाधिकार आयोग की सुनवाई में एक बार फिर  पवन देव यौन शोषण मामला गरमाया. 14-02-20 12:03:02

रायपुर. , 13 फ़रवरी 2020(ए)।प्रदेश के नौकरशाहों पर लगे गंभीर आरोपों के बाद भी पीडि़त पक्ष की सुनवाई नही होने का मामला जोरो पर है राज्य के करीब 20 ऐसे मामले है जिनमे अलग अलग जिले के आईएएस-आईपीएस पर विभाग के मातहतों को किसी न किसी विषय पर प्रताडि़त करने का आरोप नुमा दाग लगा है।जिसकी सुनवाई के लिए सर्किट हाउस में हृ॥क्रष्ट (नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन ) ने पीडि़तो को तलब किया वही इस दौरान एक वरिष्ट आईपीएस पर लगे यौन उत्पीड़न का मामला गरमाया रहा।
पवन देव के मामले में पुलिस को लगाई फटकार। पीडि़ता का वारंट नही किया तामील। इसलिए नही आई पीडि़ता। पुलिस पर जानबूझकर तामिली नही करने का आरोप।सर्किट हाउस में नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन की दिल्ली से आई टीम ने राज्य के आईएएस-आईपीएस यहां तक चीफ सेक्रेटरी से लेकर एडिशनल सेक्रेटरी और पुलिस महकमे के बड़े अफसरों पर लगे गंभीर आरोपों को लेकर पीडि़तों को तलब किया मिली जानकारी के अनुसार इस दौरान एडीजी पवन देव पर मुंगेली की एक महिला आरक्षक द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोप का मुद्दा उस वक्त गरमा गया जब उक्त महिला आरक्षक का केस सीबीआई के समक्ष आया और पीडि़ता को बुलाया गया इधर जब पीडि़ता सीबीआई की टीम के सामने नही आई तो कारण पूछा गया जिससे पुलिस मुख्यालय के एक आईपीएस भी सकते में आ गए वही नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन ने जब पीडि़ता के नही आने की पड़ताल की तब पता चला कि पीडि़ता को इस बाबत मुंगेली जिले से जानकारी दी ही नही गई थी जिसके बाद सीबीआई की टीम ने पवन देव के मामले में पुलिस को लगाई फटकार और कहा कि पीडि़ता का वारंट नही किया तामील। इसलिए नही आई पीडि़ता। जबकि इस मामले में राज्य सरकार द्वारा गठित विशाखा कमेटी ने पवन देव पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोप को सही पाया था यहां बताना लाजमी नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन ने आज प्रदेश के उन नौकरशाहों पर लगे गंभीर मामलों की सुनवाई की जिसमें अब तक कोई कारवाई नही हुई है।

Share .. . facebook google+ twiter