facebook google youtube Twiter
ghatati ghatana
About Us India World Chhattisgarh Sports Epaper Contact

facebook google+ YouTube twiter
Saturday 16 Jan 2021 08:01 AM

Breaking News


अम्बिकापुर@ तीन नाबालिग लड़कियों को ले जाया जा रहा था दिल्ली,गांधीनगर पुलिस ने किया बरामद



अम्बिकापुर@ तीन नाबालिग लड़कियों को ले जाया जा रहा था दिल्ली,गांधीनगर पुलिस ने किया बरामद 13-01-21 11:22:01

पुलिस ने एक युवक को हिरासत में लेकर कर रही पूछताछ,महिला फरार
अम्बिकापुर 13 जनवरी 2021 (घटती-घटना)।
सरगुजा संभाग में मानव तस्करी रूकने का नाम नहीं ले रहा है। कुसमी क्षेत्र से तीन नाबालिग लड़कियों को काम दिल्लाने के नाम पर दिल्ली ले जाया जा रहा था। गांधीनगर पुलिस को इसकी जानकारी मिलने पर तीनों को बालिकाओं को बरामद कर ली है। वहीं इस मामले से जुड़े एक युवक से पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है। वहीं एक महिला फरार बताई जा रही है। पुलिस ने तीनों बच्चियों को चाइल्ड लाइन को सौंप दिया है। चाल्ड लाइन की टीम द्वारा पूछताछ की जा रही है।
गांधीनगर थाना क्षेत्र से पुलिस ने तीन नाबालिग लड़कियों को बरामद किया है। तीनों लड़कियां एक घर के सामने रो रहीं थी। गांधीनगर पुलिस को इसकी जानकारी होने पर पुलिस ने तीनों को बरामद किया है। पूछताछ के दौरान तीनों बच्चियों ने पुलिस को बताया कि फगनी नामक महिला व उसके परिचित मुकेश द्वारा दिल्ली में काम दिलाने के नाम पर कुसमी क्षेत्र से ले जाया जा रहा था। महिला कुसमी क्षेत्र के ग्राम घुंघरूपाट की रहने वाली है। जबकि मुकेश फटार का रहने वाला है। दोनों दिल्ली ले जाने के लिए तीनों लड़कियों को अंबिकापुर लेकर आए थे।  महिला तीनों लड़कियों के साथ मंगलवार की सुबह गांधीनगर थाना क्षेत्र में रूकी थी। इस दौरान तीनों लड़किया महिला के चंगुल से भाग गई और सड़क किनारे रो रही थी। पुलिस को इसकी जानकारी होने पर लड़कियों को बरामद कर पूछताछ की तो लड़कियों ने पूरी कहानी बताई। जिस स्थान पर तीनों लड़कियों को रखा गया था वह पुलिस छापेमारी की तो एक मुकेश नामक युवक पाया गया। वहीं महिला फरार हो गई। महिला का नाम फगनी बताया जा रहा है। पुलिस ने मुकेश को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस ने इसकी जानकारी नाबालिग बच्चिों के परिजन को भी दे दी है। मंगलवार की शाम तक जब परिजन नहीं पहुंचे तो तीनों नाबालिगों को चाइल्ड लाइन को सौंप दिया गया।चालइल्ड लाइन की टीम ने तीनों बच्चियों बयान दर्ज किया है। बच्चियों ने बताया कि फगनी कुसमी थाना क्षेत्र के ग्राम घुंघरूपाट की रहने वाली है। वहीं मुकेश फुटार का रहने वाला है। दोनों आपस में रिश्तेदार हैं। इससे पूर्व भी ये दोनों कुसमी क्षेत्र के कई बालिकाओं को काम दिलाने के बहाने दिल्ली ले गई है। वहीं इन तीनों को भी काम दिल्लने के बहाने दिल्ली ले जाया जा रहा था। लड़कियों का कहना है कि हम तीनों दिल्ली जाते तो वहां से तीन लड़कियों को छुट्टी दी जाएगी।
पुलिस अब तक नहीं
की कोई कार्रवाई
तीनों नाबालिग लड़कियों ने जिस तरह चाइल्ड लाइन को बयान दिया है। इससे पता चलता है कि ये दोनों महिला पुरूष काफी दिनों से मानव तस्करी का काम कर रहे हैं। दिल्ली व आस पास के क्षेत्रों में कुसमी क्षेत्र के कई बच्चियों गिरफ्त में हैं। वहीं पुलिस अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है। जबकि तीनों बच्चिों ने महिला के बारे में पुलिस को बताया है। वहीं घटना के दो दिन बीतने के बाद भी पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है।
मंगलवार की सुबह तीन नाबालिग लड़कियों को बरामद किया गया है। इस मामले में एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामला बलरामपुर क्षेत्र से जुड़ा है। वहीं बच्चियों को चालइल्ड लाइन को सौंप दिया गया है।
अनुप एक्का
थाना प्रभारी गांधीनगर

Share .. . facebook google+ twiter