facebook google youtube Twiter
ghatati ghatana
About Us India World Chhattisgarh Sports Epaper Contact

facebook google+ YouTube twiter
Tuesday 13 Nov 2018 05:11 AM

Breaking News


बैकु΄ठपुर@15 आपराधिक प्रकरण का एक आरोपी जिलाबदर



बैकु΄ठपुर@15 आपराधिक प्रकरण का एक आरोपी जिलाबदर 05-11-18 11:50:11

8 जिलों की सीमा से खदेड़ा गया बाहर

आरोपी ने श्रममंत्री-संसदीय सचिव व मनेंद्रगढ़ विधायक की अगुवाई में भाजपा  की नामांकन रैली में शामिल होकर फेसबुक में फोटो पोस्ट कर पुलिस को दी चुनौती

-भूपेन्द्र सिंह-
बैकु΄ठपुर 05 नवम्बर 2018 (घटती-घटना)।
जिला दण्डाधिकारी  कोरिया के द्वारा किसी के घर में घुसकर मारपीट, प्राण घातक हमला, बलवा जैसे 15 प्रकरण का आरोपी को कोरिया सहित आठ जिले की सीमा से बाहर खदेड़ने का आदेश दिया गया है। लेकिन आरोपी ने श्रममंत्री भईयालाल राजवाड़े, संसदीय सचिव चंपादेवी पावले, मनेंद्रगढ़ विधायक श्याम बिहारी जायसवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष तीरथ गुप्ता, पूर्व नपाध्यक्ष शैलेष शिवहरे सहित भाजपा संगठन के बड़े-बड़े पदाधिकारी की अगुवाई में निकली भाजपा की नामांकन रैली में शामिल होकर बकायदा फेसबुक में फोटो डाल दिया है।
    सूत्रा से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक के द्वारा विधानसभा चुनाव को मदद्देनजर 15 गंभीर आपराधिक प्रकरण के आरोपी गढ़ेलपारा थाना बैकुंठपुर निवासी प्रभाकर सिंह कुशवाहा पिता राजेंद्र प्रसाद कुशवाहा के खिलाफ छत्तीसगढ़ राज्य सुरक्षा अधिनियम 1990 की धारा 5(ख) के प्रावधानों के तहत अपराधिक प्रकरण वार प्रतिवेदन सौंपा था। इस दौरान बैकुंठपुर थाना क्षेत्र में वर्ष 2004 से अपराधिक गतिविधि में शामिल रहने और पिछले 12 साल से आरोपी अपने साथियों के साथ किसी के भी घर में घुसकर मारपीट, प्राण घातक हमला, बलवा को अपना पेशा बनाने का उल्लेख किया गया था। आरोपी के लिए मारपीट, शीलभंग, पशु क्रूरता व हत्या का प्रयास जैसे अपराध को अंजाम देने आम बात हो गई है। रा’य सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था को गंभीर खतरा उत्पन्न हो सकता है। जिला दण्डाधिकारी कोरिया नरेंद्र कुमार दुग्गा के द्वारा पुलिस प्रतिवेदन को गंभीरता से लिया और आरोपी को जिलाबदर करने का आदेश दिया है। जिला दण्डाधिकारी ने आदेश में कहा है कि आरोपी 2004 से 2016 तक लगातार अपराधिक प्रकरणों में संलिप्त है। आरोपी की जांच प्रतिवेदन में15 अपराधिक प्रकरणों का उल्लेख किया गया है और छत्तीसगढ़ रा’य सुरक्षा अधिनियम 1990 की धारा 3 व 5 के तहत आरोपी को तीन महीने तक कोरिया सहित सूरजपुर, शहडोल, सीधी, सिंगरौली, अपूपपुर, बिलासपुर व कोरबा की सीमा से जिला बदर करने का आदेश दिया है। आदेश के प्रभावशील अवधि तक  जिला दण्डाधिकारी की अनुमति के बिना आठ जिले की सीमा के अंदर प्रवेश बाध्य होगा। विशेष परिस्थिति में अनुमति लेने के बाद ही प्रवेश दिया जा सकेगा।

Share .. . facebook google+ twiter


विज्ञापन
ghatati-ghatana